परवाणू में गोलीकांड के बाद चक्का जाम, धरने पर बैठे लोगों पर हमला, तीन घायल

firing in parwanoo
कैंटर यूनियन पर कब्जे को लेकर दो गुटों में चल रहे विवाद में करीब एक महीने बाद परवाणू में सोमवार दोपहर तीन बजे फिर गोलियां चली हैं। हवा में फायर करने के बाद आरोपी हरियाणा की सीमा पार कर फरार हो गए हैं।

कांग्रेस समर्थित बावा हरदीप गुट ने भाजपा समर्थित अमरनाथ गुट पर हमले के आरोप लगाए और उनके कार्यालय में पहुंचकर हंगामा और तोड़फोड़ की। इसके बाद कसौली चौक पर चक्का जाम किया। शाम करीब छह बजे दूसरे गुट के समर्थक भी बड़ी संख्या में आ गए।

आरोप है कि यहां हवाई फायर किया और धरने पर बैठे लोगों पर डंडों, पत्थरों, ईंटों और राडों से हमला कर दिया। इसमें तीन-चार लोग घायल हुए हैं। इस दौरान गाड़ियों, दफ्तरों में भी तोड़फोड़ की गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

कार्यालय में तोड़फोड़, चक्का जाम

बता दें कि यूनियन कार्यालय पर कब्जे को लेकर 12 जनवरी को भी हवा में गोलियां दागी गई थीं। प्रशासन ने इलाके में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया है। गोलीकांड के बाद ट्रक यूनियन के प्रधान हरदीप सिंह बावा अपने 80-90 समर्थकों के साथ परवाणू कोऑपरेटिव सोसायटी टैक्सी यूनियन के कार्यालय पहुंचे।

उन्होंने अमरनाथ गुट को जिम्मेदार ठहराते हुए खूब हंगामा किया।कार्यालय में तोड़फोड़ का भी आरोप है। इसके बाद बावा समर्थक दोपहर साढ़े तीन बजे कसौली चौक पर पहुंचे और सड़क पर ट्रक खड़ा कर मार्ग जाम कर नारेबाजी करने लगे।

इसी दौरान दूसरे गुट के 50-60 समर्थकों ने हमला कर दिया। तीन घायलों में एक को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। शाम साढ़े छह बजे मार्ग बहाल हुआ। बावा हरदीप सिंह का कहना है कि दो बार गोलियां अमरनाथ शर्मा के समर्थकों ने दागी हैं।

जल्द गिरफ्त में होंगे आरोपी : वीर बहादुर 
डीएसपी वीर बहादुर का कहना है कि पुलिस गोलियां चलाने वालों की सीसीटीवी और चश्मदीदों की मदद से पहचान कर रही है। जल्द आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा।

Please follow and like us:
error

Related posts

Leave a Comment