यमुना एक्सप्रेस वे पर ड्राइवर की झपकी से मौत में समाईं 29 जिंदगियां

yamuna expressway accident

यमुना एक्सप्रेस वे पर हुए बस हादसे से लोगों का दिल दहला दिया। यह हादसा सोमवार तड़के हुआ। हादसा इतना गंभीर था कि 29 जिंदगियां मौत के आगोश में समा गयी। मृतकों में डेढ़ साल की बच्ची भी शामिल है। इसके अलावा 22 लोग घायल भी हुए हैं।

इस हादसे में ही घायल हुए युवक अंकुर के अनुसार बस लखनऊ से रविवार रात को चली गई थी। यह डबल डेकर एसी स्लीपर बस थी।सोमवार तड़के करीब साढ़े चार बजे थाना एत्मादपुर क्षेत्र में यह हादसा हो गया। हादसे का कारन चालक को झपकी आने की वजह से बस का बेकाबू होकर यमुना एक्सप्रेस वे से 60 फीट नीचे झरना नाले में गिरना बताया जा रहा है।

बस 150 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ रही थी। बस डिवाइडर से टकराकर एक फुट ऊंचे डिवाइडर पर चढ़ी, फिर चार फुट ऊंची रेलिंग पर 25 मीटर तक घिसटती गई। इस दौरान टायर फट गया और 60 फीट नीचे खाई में जा गिरी।
हादसे के वक्त ज्यादातर लोग नींद में थे। 29 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 22 घायल हो गए। घायलों को एसएन मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है।

घायलों ने बताया कि लोगों को संभलने तक का मौका ही नहीं मिला। हादसे के बाद मौके पर पहुंचे स्थानीय लोगों ने घायलों को बस से बाहर निकालना शुरू किया। कुछ देर बाद थाना पुलिस भी पहुंच गई।

दर्दनाक बस हादसे पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुख जताया है। वहीं कमिश्नर अनिल कुमार ने कहा कि रोडवेज से बस यात्रियों का रिजर्वेशन चार्ट मंगाया गया है ताकि मृतकों की पहचान हो सके।

Please follow and like us:
error

Related posts

Leave a Comment